Breaking News

लोकायुक्त पुलिस की बड़ी कार्रवाई, सब इंजीनियर ₹50,000 की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

समाचार            Sep 14, 2018


मल्हार मीडिया ब्यूरो ग्वालियर।
मध्यप्रदेश की लोकायुक्त पुलिस ग्वालियर डीएसपी प्रद्युम्न पाराशर की टीम ने कार्यवाही करते हुए जनपद पंचायत चंदेरी मैं पदस्थ आरईएस के सब इंजीनियर अरविंद सिंह रघुवंशी को ₹50,000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

आज शुक्रवार दोपहर लगभग 12:00 बजे लोकायुक्त पुलिस ग्वालियर के DSP प्रद्युम्न पाराशर की टीम ने RAS केशव इंजीनियर को ₹50000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

आवेदक भूपेंद्र सिंह बुंदेला उपसरपंच ग्राम पंचायत नानोन जनपद पंचायत चंदेरी अंतर्गत सीसी खरंजा के निर्माण पश्चात एम बी सत्यापन और मूल्यांकन के एवज में सब इंजीनियर रघुवंशी द्वारा 20 लाख रुपए के काम पर सत्यापन के एवज में 20% राशि की मांगी।

ग्राम पंचायत नानोन उनके उपसरपंच से की जा रही थी संभवता यह मांग धीरे-धीरे घटकर 6% पर मूल्यांकन के एवज में सरपंच द्वारा रिश्वत रूपी राशि देना तय हुई।

जिसकी शिकायत उपसरपंच भूपेंद्र सिंह बुंदेला द्वारा लोकायुक्त पुलिस एसपी ग्वालियर को की गई ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आजआर ई एस के सब इंजीनियर को ₹50000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

आवेदक भूपेंद्र सिंह बुंदेला उपसरपंच नानोन द्वारा बताया गया कि अन्य रोजगार गारंटी के ऐसे कार्य जो निर्माण, एजेंसी ग्राम पंचायत द्वारा करवा दिए गए हैं।

उन कार्यों को भी सब इंजीनियर रघुवंशी द्वारा रिश्वत ना दिए जाने पर अमल में नहीं लाया गया है और बताया गया कि पंचायत एवं मजदूरों के मस्टर सब इंजीनियर के समक्ष प्रस्तुत करने पर उन मस्टरो को जीरो कर दिया जाता था जो कि आज भी जीरो किए गए मास्टर सबूत के तौर पर उपलब्ध हैं।

आर ई एस के सब इंजीनियर रघुवंशी चंदेरी जनपद अंतर्गत 9 पंचायतों का कार्य देते थे और उन पंचायतों में भी इसी प्रकार से परेशानी का सामना सरपंचों को करना पड़ रहा था इस कारण तंग आकर लोकायुक्त ग्वालियर को यह शिकायत की गई है।

 

 


Tags:

सब-इंजीनियर-रिश्वत-लेते-गिरफ्तार

इस खबर को शेयर करें


Comments