Breaking News

जलियांवाला बाग में हुए नरसंहार के लिए ब्रिटिश सरकार को माफी मांगनी चाहिए - मेयर, लंदन

समाचार            Dec 06, 2017


मल्हार मीडिया ब्यूरो।

लंदन के मेयर सादिक खान ने बुधवार को कहा कि ब्रिटिश सरकार को अमृतसर के जलियांवाला बाग में हुए नरसंहार के लिए माफी मांगनी चाहिए। खान मंगलवार को अमृतसर पहुंचे। उन्होंने बुधवार को जलियांवाला बाग नरसंहार के शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

जलियावाला बाग परिसर का दौरा करने के बाद खान ने मीडिया से कहा, "ब्रिटिश सरकार को जलियांवाला बाग में हुई गोलीबारी के लिए माफी मांगनी चाहिए। कुछ लोग इसके लिए नरसंहार शब्द का इस्तेमाल करते हैं।"

ब्रिगेडियर जनरल रेगिनाल्ड डायर के नेतृत्व में 13 अप्रैल 1919 को ब्रिटिश सेना ने महिलाओं, बच्चों और वृद्धों समेत सैकड़ों निर्दोष भारतीयों पर अंधाधुंध गोलियां बरसाई थीं।

पीड़ितों के पास बचकर भागने की कोई जगह नहीं थी क्योंकि सैनिकों ने एकमात्र संकरे प्रवेश द्वार को अवरुद्ध कर दिया था। औपनिवेशिक काल के दस्तावेजों के मुताबिक, मृतकों की संख्या 400 के करीब थी, जबकि देश के स्वतंत्रता आंदोलन के नेताओं ने इस घटना में 1,000 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की बात कही थी।

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ ने अपने पति प्रिंस फिलिप के साथ अक्टूबर 1997 में जलियांवाला बाग का दौरा किया था, लेकिन उन्होंने नरसंहार के लिए माफी नहीं मांगी थी।

फरवरी 2013 में जलियांवाला बाग का दौरा करने के दौरान तत्कालीन ब्रिटिश प्रधानमंत्री डेविड कैमरून ने नरसंहार पर अफसोस जताया था।

खान अमृतसर में सिखों के पवित्र धार्मिक स्थल स्वर्ण मंदिर भी गए।

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने खान को एक 'सिरोपा' भेंट किया।



इस खबर को शेयर करें


Comments