राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर मित्र पूंजीवाद में संलिप्त होने का आरोप लगाया

राजनीति            Oct 09, 2017


मल्हार मीडिया ब्यूरो।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर सीधा हमला बोला और मित्र पूंजीवाद में संलिप्त होने का आरोप लगाया। इसके साथ ही राहुल ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर भी हमला बोला और कहा कि केंद्र में राजग सरकार के सत्ता में आने के बाद शाह के बेटे का कारोबार कई गुना बढ़ गया। राहुल ने इस चुनावी राज्य में पार्टी की नवसर्जन यात्रा के दूसरे चरण में मध्य गुजरात के नाडियाड में उत्साही भीड़ को संबोधित करते हुए मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा, जिसपर भीड़ ने उनका समर्थन किया।

प्रधानमंत्री की प्रमुख योजनाओं का मजाक उड़ाते हुए राहुल ने कहा,"जब बात मदद की आती है तो वह सिर्फ मुट्ठीभर उद्योगपतियों की मदद करते हैं। 10-12 साल तक अमित शाह के बेटे की कंपनी के पास कुछ भी नहीं था, लेकिन 2014 के बाद कंपनी ने कमाना शुरू किया। अजीब दुनिया है। उन्होंने (जय शाह) 50 हजार रुपये से शुरुआत की और एक साल में उनका कारोबार 80 करोड़ रुपये का हो गया। यह है 'स्टार्ट-अप इंडिया' और 'मेक इन इंडिया'।"

राहुल अपने भाषण के दौरान एक ऐसे स्तर पर पहुंचे कि वह जनता से संवाद करने लगे, "मेरा वाक्य पूरा कीजिए, 'ना खाऊंगा, ना खाने दूंगा। कहां गया चौकीदार? यह है गुजरात की सच्चाई।" राहुल बोलते और उसके बाद भीड़ उनकी बातों को दोहराती।

राहुल मोदी का जिक्र कर रहे थे, जो अक्सर कहते रहे हैं कि वह देश के चौकीदार हैं और एक रुपये का भी भ्रष्टाचार नहीं होने देंगे।

मोदी के पहले के भाषणों का उद्धरण देते हुए राहुल ने कहा, "छप्पन की छाती है। मैं अकेले रोजगार दूंगा। किसी को कुछ नहीं करना पड़ेगा।"

राहुल ने कहा, "हर 24 घंटे में 30 हजार बेरोजगार युवा रोजगार बाजार में आते हैं, लेकिन रोजगार सिर्फ 450 को मिलता है। चीन में हर दिन 50 हजार युवाओं को रोजगार मिलता है। इस देश की सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी है।"

उन्होंने कहा, "मोदी को स्वीकार कर लेना चाहिए की वह विफल हो चुके हैं। उन्हें यह कहना चाहिए कि जो वादे मैंने किए थे, मैं उन्हें पूरा नहीं कर पाया और मैं विफल हो चुका हूं।"

उन्होंने कहा कि भाजपा के तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने संसद में माना था कि कांग्रेस पार्टी ने विकास कार्य किए हैं, लेकिन मोदी लगातार कांग्रेस पर दोषी ठहराते रहे हैं।

मोदी के मासिक रेडियो टॉक शो, मन की बात पर तंज कसते हुए राहुल ने कहा, "पिछले 22 सालों से आप कांग्रेस के साथ हैं। मैं यह नहीं भूल सकता, आपका सम्मान होगा। इस मंदिर में किसी के मन की बात नहीं सुनी जाती।"

गांधी ने नाडियाड में लोकप्रिय ऐतिहासिक संतराम मंदिर पर उपस्थित जनसमूह से बात की। यह एक 250 साल पुराना मंदिर है, जिसके प्रति लोगों में अपार श्रद्धा है। गांधी ने उत्साह में भीड़ की तरफ फ्लाइंग किस उछाला और जनसमूह ने इसपर जोरदार प्रतिक्रिया की। राहुल को अपने सेल फोन से तस्वीरें लेते भी देखा गया।

मध्य गुजरात के चारोतार क्षेत्र में भी कांग्रेस नेता का उत्साही भीड़ ने जोरदार स्वागत किया।

अगस्त माह में हुए राज्यसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने इस क्षेत्र से अपने दो वरिष्ठ विधायकों -शंकर सिंह वाघेला और रामसिंह परमार- को खो दिया।

इसके बाद राहुल करमसाद में सरदार पटेल के घर गए, जहां उन्होंने पटेल और महात्मा गांधी की प्रतिमाओं को माल्यार्पण किया। सरदार पटेल नाडियाड में अपने मामा के घर पैदा हुए थे, जो करमसाद क्षेत्र में आता है।

राहुल ने वहां जनसमूह को संबोधित करते हुए मोदी और शाह पर फिर हमला किया।

उन्होंने कहा, "क्या यही स्टार्ट-अप इंडिया, मेक इन इंडिया है? मोदी ने छोटे व्यापारियों, आम लोगों को बर्बाद कर दिया, और उससे एक कंपनी खड़ी हुई, जो अमित शाह के बेटे की है।"

राहुल ने अमूल डेयरी संयंत्र के श्रमिकों के साथ भी बातचीत की।



इस खबर को शेयर करें


Comments