राहुल ने केंद्र से ईंधन वस्तुओं को जीएसटी के दायरे में लाने का आग्रह किया

राजनीति            Nov 12, 2017


मल्हार मीडिया ब्यूरो।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को केंद्र सरकार से महंगाई पर नियंत्रण के लिए ईंधन वस्तुओं को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के दायरे में लाने का आग्रह किया। राहुल ने ईंधन वस्तुओं को अधिकतम 18 फीसदी के स्लैब में रखने को कहा। राहुल ने ट्वीट किया, "यह देश की मांग है। सरकार को बहाने बंद करने चाहिए। आम जनता द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली बुनियादी वस्तुओं पर जीएसटी हटा देना चाहिए।"

राहुल ने कहा, "महंगाई के बोझ को कम करने लिए उन्हें पेट्रोल, डीजल व गैस सिलेंडर को जीएसटी में लाना चाहिए। जीएसटी के लिए एक दर तय करनी चाहिए, जो कम से कम हो और यह 18 फीसदी से किसी कीमत पर ज्यादा नहीं होना चाहिए।"

राहुल ने 200 से ज्यादा वस्तुओं पर जीएसटी दरों में कमी को अपनी जीत बताया।

राहुल ने शनिवार को कहा था कि उनकी पार्टी कर को 18 फीसदी तक सीमित करने के लिए लड़ाई जारी रखेगी।

कांग्रेस नेता ने यह भी वादा किया कि यदि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार इसे करने में विफल रहती है तो कांग्रेस ऐसा करेगी।

जीएसटी परिषद ने शुक्रवार को 178 वस्तुओं पर से कर दरें घटा दी। इन वस्तुओं को 28 फीसदी कर दायरे से निकाल कर 18 फीसदी कर दायरे में लाया गया और कई दूसरी वस्तुओं पर कर की दरें घटाई गईं।



इस खबर को शेयर करें


Comments