Breaking News

आरएसएस से जुड़े सरकारी कर्मचारियों को चुनावी कार्यो से दूर रखने की मांग

प्रदेश लार्इव            Oct 29, 2018


मल्हार मीडिया भोपाल।
मध्यप्रदेश के विभिन्न सामाजिक एवं सांस्कृतिक संगठनों ने यह मांग की है कि जिन शासकीय सेवकों का संबंध राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से है उन्हें चुनाव से संबंधित किसी भी प्रकार की जिम्मेदारी न सौंपी जाए।

इन संगठनों के प्रतिनिधियों ने आज भोपाल में मुख्य चुनाव पदाधिकारी व्हीएल कांताराव से मुलाकात की और उन्हें एक ज्ञापन सौंपा।

ज्ञापन में यह स्मरण दिलाया गया कि सन् 2006 में भाजपा सरकार ने शासकीय कर्मचारियों को आरएसएस की गतिविधियों में भाग लेने की अनुमति दे दी थी।

इसके चलते इस बात की पूरी संभावना है कि संघ से संबंधित कर्मचारियों को चुनाव, विशेषकर मतदान केन्द्र की जिम्मेदारी दे दी जाए। यदि ऐसा किया जाता है तो चुनाव की निष्पक्षता पर सवालिया निशान लग जाएगा।

प्रतिनिधिमंडल में चन्द्रकांत नायडू, एलएस हरदेनिया, राजेन्द्र कोठारी, अब्दुल जब्बार, जावेद अनीस एवं उपासना बेहार शामिल थे।

प्रतिनिधिमंडल ने सुझाव दिया कि उन सभी शासकीय कर्मचारियों से, जिन्हें चुनाव संबंधी कार्य सौंपे जाएं, शपथ पत्र पर यह आश्वासन लिया जाए कि उनका आरएसएस से कोई संबंध नहीं है।

प्रतिनिधिमंडल की बात सुनने के बाद श्री कांताराव ने बताया कि ऐसी ही मांग कुछ राजनीतिक दलों ने भी की है और इसपर विचार किया जा रहा है।

 



इस खबर को शेयर करें


Comments