Breaking News

मप्र - शिवराज की सभा में पहुंचे किसान हुए बेकाबू

प्रदेश लार्इव            Dec 06, 2017


मल्हार मीडिया ब्यूरो।

मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले के बदरवास में बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में आयोजित किसान महासम्मेलन में भावांतर भुगतान योजना के आवेदन लेकर पहुंचे किसान बेकाबू हो गए। पुलिस को उन पर हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा। मुख्यमंत्री ने जब हर किसान का आवेदन लेने का वादा किया, तब वे शांत हुए। मुख्यमंत्री शिवराज ने किसान महासम्मेलन में भावांतर योजना के तहत किसानों को इस योजना के तहत चेकों का वितरण किया गया। यहां बहुत से किसान ऐसे पहुंचे थे, जिन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिला। उनके हाथों में आवेदन पत्र थे।

सभा में आवेदन देने वाले किसानों की भीड़ ज्यादा थी, कुछ समय के लिए बेकाबू हुई तो पुलिस को मोर्चा संभालना पड़ा। इसी बीच सभा में मुख्यमंत्री कहा, "किसान घबराएं नहीं, मैं सभी के आवेदन उनके पास आकर लूंगा। बदरवास और कोलारस में लोगों से मिलने के लिए गांवों में जाऊंगा।"

इसके बाद मुख्यमंत्री ने देर शाम को चितारा, बूढ़ाडोंगर सहित अन्य गांवों में चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएं सुनीं और अधिकारियों को उनके निराकरण के आवश्यक निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री बदरवास में किसान महासम्मेलन में भावांतर भुगतान योजना के तहत लगभग 31 करोड़ 34 लाख की राशि से 14 हजार 102 किसानों को लाभांवित किया। इस दौरान शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी एवं हितग्राही मूलक योजना के तहत 32 हजार 128 हितग्राहियों को एक अरब 34 करोड़ 27 लाख की सहायता प्रदाय की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सूखे से निपटने के लिए राहत की राशि किसानों को दी जाएगी। गरीब एवं मजदूरों को रोजगार मिले इसके लिए मनेरगा के तहत विशेष पैकेज दिया जाएगा।

शिवराज ने आगे कहा कि उनके द्वारा भोपाल से बदरवास आते वक्त संपूर्ण क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण कर लिया है और सभी खेत सूखे पड़े हुए हैं। उन्होंने किसानों को दिलासा दिलाते हुए कहा कि चिंता की कोई बात नहीं है, सूखे की इस घड़ी में राज्य सरकार किसानों के साथ है, सूखे से निपटने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी जाएगी।



इस खबर को शेयर करें


Comments