सौभाग्य योजना में बिजली कनेक्शन की संख्या 16 लाख

प्रदेश लार्इव            Jun 11, 2018


मल्हार मीडिया ब्यूरो।

मध्यप्रदेश में सहज बिजली हर घर योजना सौभाग्य में अब-तक बिजली कनेक्‍शन की संख्या 16 लाख के ऊपर पहुँच चुकी है। योजना में 16 लाख 5 हजार 838 घरों को बिजली कनेक्शन देकर रौशन किया जा चुका है। योजना में शेष बचे घरों को अक्टूबर माह तक विद्युतीकृत करने का लक्ष्य है। केन्द्र और राज्य सरकार की प्रभावी पहल पर ऐसे सभी घरों में बिजली कनेक्शन उपलब्ध करवाए जा रहे हैं, जिनमें वर्षों से बिजली कनेक्शन नहीं थे। इसके लिए क्रियान्वित की जा रही 'सौभाग्य योजना' बेहतर साबित हो रही है। प्रदेश की तीनों विद्युत वितरण कंपनी द्वारा तीव्र गति से समुचित प्रयास कर ऐसे सभी अंधेरे में डूबे घरों को बिजली कनेक्शन सहजता और सरलता से उपलब्ध कराकर उन्हें रौशन किया जा रहा है।

राज्य के 14 जिलों इंदौर, मंदसौर, नीमच, आगर-मालवा, देवास, खण्डवा, उज्जैन, अशोकनगर, हरदा, रतलाम, शाजापुर, भोपाल, सीहोर एवं धार में शत-प्रतिशत विद्युतीकरण का लक्ष्य पूरा कर घरों को रौशन कर दिया गया है। सौभाग्य योजना में अन्य 5 जिले अगले कुछ दिनों में शत-प्रतिशत विद्युतीकरण का लक्ष्य पूरा करने वाले हैं। इनमें होशंगाबाद 98 प्रतिशत, झाबुआ 97 प्रतिशत, ग्वालियर 96 प्रतिशत, दतिया 94 प्रतिशत एवं अलीराजपुर 94 प्रतिशत लक्ष्य के साथ आगे हैं।

पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को क्षेत्र के 20 जिलों के कनेक्शन विहीन घरों को बिजली से जोड़ने का लक्ष्य दिया गया है। कंपनी ने अब तक 5 लाख 63 हजार 378 घरों को बिजली कनेक्शन से जोड़ा है। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने क्षेत्र के बिजली कनेक्शन विहीन घरों के विद्युतीकरण के लक्ष्य के वि‍रूद्ध 6 लाख 56 हजार 142 घरों को रोशन किया है। इसी प्रकार पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बिजली कनेक्शन विहीन घरों को बिजली सुविधा मुहैया करवाने के लक्ष्य के विरूद्ध 3 लाख 86 हजार 318 घरों में बिजली कनेक्शन उपलब्ध करवा दिए गए हैं।

 



इस खबर को शेयर करें


Comments