Breaking News

सागर यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में छात्र ने लगाई फांसी,बीएमसी बना छावनी, छात्रों का हंगामा

प्रदेश लार्इव            Sep 15, 2018


मल्हार मीडिया ब्यूरो सागर।


मध्यप्रदेश के सागर जिले के डॉ. हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्याल में पेपर बिगड़ने से दुखी बीएससी जृतीय सेमेस्टर के छात्र ने शुक्रवार देर शाम टैगोर हॉस्टल स्थित अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

प्राप्त जानकारी के आज डॉ हरीसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय की टैगोर हॉस्टल में रहने वाले देवअर्श बागरी नामक एक छात्र को आज परीक्षा के दौरान मोबाइल से नकल करते पकड़ा गया था, शाम को वापस आकर टैगौर होस्टल में अपने कमरे में फांसी पर झूल गया।

हॉस्टल प्रबंधन वा साथी छात्र उसे बीएमसी लेकर पहुंचे थे। यहां डॉक्टरों पर लेटलतीफी के आरोप लगाते हुए विवि होस्टल के लड़कों ने हंगामा कर दिया। इसी दौरान सीएमओ मनोज चौरसिया ने देवअर्श को मृत घोषित कर दिया। हॉस्टल छात्रों के हंगामे के दौरान बीएमसी के इंटर्न से विवाद हो गया और उनकी धुनाई कर दी गई।

बाद में विवि होस्टल में जानकारी लगने के बाद करीब 200 छात्र डंडे लेकर बीएमसी पहुंच गए।
हालांकि इसके पहले मौके भारी पुलिस बल तैनात कर छावनी बना दिया गया था। बीएमसी के सभी गेट बंद कर दिए गए।

विवि के छात्रों को बीएमसी के बाहर रोक लिया गया, काफी समझाने के बाद भी जब वे नहीं माने और हंगामा करने लगे तो पुलिस को मजबूरन लाठी चार्ज करना पड़ा।

छात्रो पर लाठी बरसाना शुरु कर दी,इस लाठी चार्ज मे कई छात्र घायल हो गए।

बुंदेलखण्ड मैडिकल कॉलेज मे अभी भी पुलिस मौजुद है। वही इस घटना के मामले मे पुलिस का कहना है की छात्रो को भगाने के लिये लाठी चार्ज किया गया था इसके बाद भी सुरक्षा बढाई गयी है।महत्वपूर्ण बात यह है कि देर रात लाठीचार्ज में घायल छात्रों को बीएमसी में ही भर्ती कराया गया है। अंदर बाहर पुलिस बल अब भी तैनात है।

 



इस खबर को शेयर करें


Comments