Breaking News

सशक्त लोकतंत्र के लिए मतदाता जागरुकता जरूरीः प्रो. पी.पी. सिंह

प्रदेश लार्इव            May 07, 2019


मल्हार मीडिया भोपाल।
मतदाता जागरुकता समय की मांग है और मतदाता जितना जागरूक होगा, लोकतंत्र उतना ही मजबूत होगा। चुनाव आयोग के प्रयासों से आम जनता में जागरुकता बढ़ रही है, जिसके अच्छे परिणाम देखने को मिल रहे हैं। यह बात मध्य प्रदेश माध्यम के ओएसडी एवं रोजगार और निर्माण के प्रधान संपादक प्रो. पी.पी. सिंह ने पीआईबी, भोपाल के सभागार में आयोजित तीन दिवसीय मतदाता जागरुकता चित्र प्रदर्शनी के उद्घाटन के अवसर पर कही। 7 मई से 9 मई तक चलनेवाली इस प्रदर्शनी का आयोजन रीजनल आउटरीच ब्यूरो (आरओबी) और पीआईबी द्वारा किया गया है।

श्री सिंह ने कहा कि मतदाता जागरुकता कार्यक्रम और मतदान संबंधी सुविधाओं के विस्तार की वजह से मतदाताओं में चुनाव के प्रति उदासीनता कम हुई है और लोग मतदान के प्रति प्रेरित हुए हैं। उन्होंने कहा कि बीच में एक ऐसा समय आया था जब लोग कहा करते थे कि मेरे एक वोट से क्या होता है और देश में किसी पार्टी की सरकार हो हमें क्या करना है। लेकिन मतदाता जागरुकता कार्यक्रमों के लोगों में एक उम्मीद जगी है और लोग चुनाव के प्रति आशावान हुए हैं, तो वही राजनीतिक पार्टियों पर भी चुनाव में सही प्रत्याशी उतारने का दबाव बढ़ा है। उन्होंने चित्र प्रदर्शनी के बारे में कहा कि यहां पर मतदान की पूरी प्रक्रिया को चित्रों के माध्यम से बहुत ही आसान तरीके से समझाया गया है। चित्रों में ईवीएम और वीवीपैट के बारे में भी बेहतर तरीके बताया गया है। श्री सिंह ने कहा कि देश जब स्वतंत्र हुआ था तो सबसे पहली प्राथमिकता निष्पक्ष और निर्भीक चुनाव करवाने की थी। तभी से चुनाव प्रक्रिया में बहुत से अपेक्षित सुधार हुए हैं और लगातार सुधार जारी हैं जिससे हमारे लोकतांत्रिक व्यवस्था को मजबूती मिली है।

 

इस अवसर पर दूरदर्शन समाचार, भोपाल की उप निदेशक सुश्री पूजा पी. वर्धन ने कहा कि लोकतंत्र की बेहतरी के लिए जागरूक और जिम्मेदार मतदाता होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की सभी मीडिया इकाइयां मतदाता जागरुकता की दिशा में हरसंभव कोशिश कर रहे हैं।

पीआईबी, भोपाल के उप निदेशक अखिल कुमार नामदेव ने कहा कि मतदान हमें अपनी अपेक्षाओं के अनुरूप हिसाब से सरकार चुनने का अधिकार प्रदान करता है। मतदाता जागरुकता कार्यक्रम हमें मतदान के अधिकार को सही तरीके से प्रयोग करने की सीख देता है। मतदाता जागरुकता कार्यक्रम से समाज के हर तबके की सहभागिता लोकतंत्र में बढ़ी है, प्रदेश में हुए विधान सभा चुनवा और लोकसभा चुनावों में अब तक दो चरणों में हुए मतदान का बढ़ा हुआ प्रतिशत इसका सबूत है।

चित्र प्रदर्शनी के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए सहायक निदेशक, आरओबी, भोपाल श्री पी.के. मोहंती ने कहा कि प्रदर्शनी का उद्देश्य चित्रों के माध्यम से मतदाताओं को जागरूक करना है और लोगों को मतदान के प्रति संवेदनशील बनाना है। इससे पहले आरओबी, भोपाल के उपनिदेशक श्री मधु आर. शेखर ने स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम में आकाशवाणी के संवाददाता संजीव शर्मा, दूरदर्शन समाचार के सहायक निदेशक डॉ. सत्येंद्र शरण, योगेश पटेल समेत पीआईबी, भोपाल और आरओबी, भोपाल के कर्मचारियों एवं अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

 



इस खबर को शेयर करें


Comments