Breaking News

अस्थि संचय में शामिल हुये मंत्री पुत्र ने प्रीति को माना पत्नि,पुलिस कह रही सबूत नहीं मिले

वामा            Mar 20, 2018


मल्हार मीडिया भोपाल।
प्रीति रघुवंशी आत्महत्या मामले में मध्य प्रदेश सरकार के कैबीनेट मंत्री रामपाल सिंह का बेटा गिरजेश सिंह आज उदयपुरा पंहुचा और वहां अस्थि संचय में शामिल हुआ। इस पर प्रीति के परिजनों का कहना है कि हम जो चाह रहे थे वो हो गया।

अस्थि संचय में शामिल होने के बाद मंत्री के बेटे गिरजेश ने मृतिका प्रीति को अपनी पत्नी मान लिया है, लेकिन पुलिस मुख्यालय का कहना है कि अभी प्रीति के गिरजेश की पत्नी होने के कोई भी सबूत नहीं मिले हैं। 

आज प्रीति और गिरीजेश की शादी का फोटो भी वायरल हो गया।

इससे पहले, परिजनों ने मांग की थी कि गिरजेश प्रीति को अपनी पत्नी स्वीकार करे और उसका अंतिम संस्कार करे, लेकिन वे अंतिम संस्कार करने नहीं पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि रघुवंशी समाज के लगातार दबाव के चलते आखिरकार उन्होंने प्रीति से अपना रिश्ता स्वीकार कर लिया है।

गौरतलब है कि मंत्री रामपाल सिंह ने बहू प्रीति रघुवंशी के सुसाइड मामले में पहली बार बयान दिया था। मामले के दो दिन बाद मीडिया के सामने सफाई देने आये मंत्री ने दुख जताया और मामले के जांच के बाद पूरा खुलासा होने की बात की थी।

हैरानी वाली बात तो यह है कि मंत्री रामपाल सिंह ने प्रीती रघुवंशी को अपनी बहू मानने से ही इनकार कर दिया था।

इस मामले में बड़ा खुलासा तब हुआ हुआ था, जब मंत्री रामपाल सिंह के बेटे गिरजेश का एसएमएस सामने आया था। खुदकुशी की घटना से तीन दिन पहले ही गिरजेश ने प्रीति के चाचा को एसएमएस किया, जिसमें उन्होंने लिखा अपन कुछ करेंगे, टेंशन मत लो, बस प्रीति से अच्छे से पहले बात करो।

आज प्रीति और गिरीजेश की शादी का फोटो भी वायरल हो गया।


Tags:

son minsiters girijesh preeti-raghuvanshi asthi-sanchaya

इस खबर को शेयर करें


Comments