Breaking News

निकाय चुनाव विधानसभा का सेमीफाइनल, इनसे विधायकों का रिपोर्ट कार्ड भी बनेगा

राजनीति, मध्यप्रदेश            Jun 19, 2022


मल्हार मीडिया भोपाल।

मध्यप्रदेश में चल रहे निकाय चुनाव कांग्रेस पार्टी के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। इसमें एक-एक नेता और कार्यकर्ता को अपनी पूरी शक्ति और सामर्थ्य से काम करना है।

यह चुनाव ना सिर्फ शहर की सरकार का फैसला करेंगे बल्कि 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल भी हैं।

सभी विधायक और विधानसभा चुनाव लड़ने के दावेदार यह बात अच्छी तरह से याद रखें कि निकाय चुनाव का प्रदर्शन उनका रिपोर्ट कार्ड भी तैयार करेगा।

पूर्व मुख्यमंत्री एवं मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने आज अपने आवास पर आयोजित निकाय चुनाव के जिला और संभाग प्रभारियों की बैठक में यह बात कही।

श्री कमलनाथ ने कहा कि निकाय चुनाव के लिए पर्चा दाखिल करने का काम पूरा हो चुका है। ज्यादातर प्रत्याशियों को बी फार्म दिए जा चुके हैं और कुछ प्रत्याशियों को दिए जाने बाकी हैं।

सभी प्रभारी प्रत्याशियों को चुनाव की तकनीकी बारीकियों से अवगत करा दें और इस बात का पूरा इंतजाम करें कि किसी भी तरह की तकनीकी त्रुटि के कारण किसी प्रत्याशी का फार्म गलत तरीके से ना भरा जाए।

उन्होंने कहा कि भाजपा प्रशासन का दुरुपयोग करने में कोई कसर नहीं छोड़ती। इसलिए नामांकन प्रक्रिया से लेकर मतगणना होने तक सभी प्रत्याशी पूरी तरह से सजग रहें।

श्री कमलनाथ ने कहा कि चुनाव के समय हर वार्ड से 10-10 लोग टिकट मांगते हैं। जो क्षेत्र में काम करता है, टिकट मांगना उसका अधिकार है, लेकिन टिकट सिर्फ एक ही व्यक्ति को मिल सकता है।

ऐसे में टिकट ना मिलने से जो लोग कुछ लोग निराश होते हैं, उन कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाना और उन्हें पूरे उत्साह के साथ कांग्रेस के समर्थन में चुनाव में लगाना सभी नेताओं की जिम्मेदारी है।

जिन्हें आज टिकट नहीं मिला है, उन्हें कल दूसरी जिम्मेदारियां मिलेंगी।

श्री कमलनाथ ने कहा कि चुनाव जीतने में संगठन की भूमिका सबसे प्रमुख होती है। कांग्रेस संगठन चुनाव मजबूती से लड़ेगा और सभी नगर निगम, नगर पालिका और नगर परिषद में शानदार प्रदर्शन करेगा।

बैठक के बाद पत्रकारों को जानकारी देते हुए पूर्व मंत्री एवं विधायक तरुण भनोट ने कहा कि श्री कमलनाथ ने हम सबको निर्देश दिए हैं की एक-एक कार्यकर्ता को पूरा सम्मान दिया जाए। श्री भनोट ने कहा कि अगर कोई रूठा होगा तो हम घर जाकर उसे मनाएंगे। कार्यकर्ता का घर कांग्रेस का ही घर है।

इसके पूर्व बैठक में जेपी धनोपिया ने सभी प्रभारियों को चुनाव के तकनीकी पक्षों की विस्तृत जानकारी दी। बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता निकाय चुनाव के संभाग प्रभारी और जिला प्रभारी उपस्थित रहे।

 



इस खबर को शेयर करें


Comments