सैक्स रैकेट में पकड़े गये जिस्मफरोशों का ब्यौरा,रेत,कपड़ा व्यवसायी थे ग्राहक,छात्र सप्लायर,सरगना फरार

खास खबर            May 20, 2017


मल्हार मीडिया।
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में चल रहे सेक्स रैकेट का खुलासा होने के बाद आरोपियों के बारे में पुलिस की तरफ से जो विस्तृत जानकारी आई है उसके अनुसार दो आरोपी छात्र हैं, दो कपड़ा व्यवसायी एक रेत व्यवसायी और भाजपा नेता नीरज शाक्य बिल्डर्स को रेत सप्लाई करने का काम करता है। एक खेती का काम करता है, गिरोह का सरगना सुभाष उर्फ वीर द्विवेदी आरोपी के अनुसार वह भोपाल के कई होटलों में मैनेजर का काम कर चुका है। यह अभी तक फरार है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार सभी आरोपियों की भूमिका सैक्स रैकेट में बंटी हुई थी। इनमें सीहोर निवासी देवेंद्र वेबसाईट पर दिये गये नंबर पर आने वाले कॉल्स को अटेंड करता था। यह सत्यसांई कॉलेज का छात्र है।

वहीं सुरेश गेहलोत जो कि खेती करता है का काम वीर के बताये अनुसार लड़की लाना और सुरेश के बताये पता पर उसे पहुंचाने का काम करता था। यह काम वह अपनी बाईक से करता था।

खुद को हमीदिया कॉलेज का छात्र बताने वाले रवि प्रजापति का कहना है कि वह वीर के लिये लड़कियां सप्लाई करता था। मनोज कुमार गुप्ता इस रैकेट का मैनेजर था और कृष्ण कुमार जायसवाल ने वीर के निर्देशन में काम करना बताया है।


भोपाल निवासी हरजीत धनवानी रेत व्यवसायी है और यह इन लड़कियों की ग्राहकी करता था।इसी प्रकार कपड़ा व्यवसायी सुरेश बेलानी और मिसवा उद्दीन दोनों ग्राहक थे।

भाजपा नेता नीरज शाक्य ने बताया कि हरजीत और रवि उसके साथ रहते हैं और पहले वह ढाबा चलाने का काम करता था। वर्तमान में वह बिल्डर्स को रेत सप्लाई का काम करता है।

गिरोह का मुख्य सरगना सुभाष उर्फ वीर द्विवेदी विभिन्न वेबसाईट पर नौकरी की तलाश में आने वाली लड़कियों को फांसता था।

आरोपी दिनेश निवासी सीहोर, सुरेश निवासी नसरूल्लागंज,रवि निवासी सेमराकला भोपला,हरजीत धनवानी निवासी राजीव नगर अयोध्या नगर,मनोज कुमार गुप्ता निवासी पन्ना, कृष्ण कुमार जायसवाल निवासी सतना, सुरेश बेलानी निवासी मिनी मार्केट बैरागढ़, मिसबा उद्दीन निवासी कमलापार्क, नीरज शाक्या निवासी कमला नगर को गिर तार किया गया है। जबकि सुभाष उर्फ वीर गिरोह का सरगना है जो फिलहाल फरार बताया जा रहा है।

 


Tags:

bhopal sex-raiket-accused-detail mp bjp leader

इस खबर को शेयर करें


Comments