मप्र - बैतूल में कर्ज से परेशान किसान ने आत्महत्या की

प्रदेश लार्इव            Oct 07, 2017


मल्हार मीडिया ब्यूरो।

मध्यप्रदेश में फसल की बर्बादी और कर्ज के बोझ से दबे किसानों की आत्महत्या का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है।

बैतूल जिले में दो लाख रुपये के कर्ज के चलते किसान ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के मुताबिक, आठनेर ब्लॉक के चकोरा गांव के निवासी पंजू कुमरे के पास आठ एकड़ जमीन है।

उसने बीते चार साल पहले मासोद के महाराष्ट्र बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड पर दो लाख रुपये का कर्ज लिया था। चार-पांच सालों से उसकी खेती ठीक नहीं होने के कारण वह कर्ज नहीं चुका पा रहा था, जिससे वह तनाव में था और इसी के चलते उसने शुक्रवार देर रात कीटनाशक पी ली।

परिजनों ने बताया कि देर रात पंजू को मूर्छित अवस्था में आठनेर के उपस्वास्थ केंद्र में भर्ती कराया गया। गंभीर अवस्था को देखकर पंजू को वहां से जिला अस्पताल रेफर किया गया, मगर रास्ते में उसकी मौत हो गई।

मृतक किसान की पत्नी सुशीला ने कहा, "कर्ज की वजह से मेरे पति तनाव में थे और इसी के चलते उन्होंने जहर पीकर आत्महत्या कर ली।"

अस्पताल चौकी प्रभारी सुरेंद्र वर्मा ने शनिवार को संवाददाताओं को बताया कि मृतक किसान का पोस्टमार्टम करवाने के उपरांत शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

किसान द्वारा आत्महत्या किए जाने की जानकारी मिलने पर स्थानीय विधायक हेमंत खंडेलवाल ने मृतक के शव को गांव तक पहुंचाने के लिए तत्काल शव वाहन उपलब्ध कराया, साथ ही अंतिम संस्कार के लिए दो हजार रुपये की आर्थिक मदद की।



इस खबर को शेयर करें


Comments