हारे-हुये-में-प्रेम-का-अंश

संजय शेफर्ड।दिन महीने साल कितनी जल्दी बीत जाते हैं। फिर भी ऐसा लगता है कि कल की ही तो बात है। समय अतीत और वर्तमान के मध्य एक निश्चित दूरी बनाकर चलता है। जैसे-जैसे...
Jan 05, 2018