Breaking News

जब कलेक्टर ने मंच पर जाकर उप प्रधानमंत्री को रोक दिया था भाषण देने से

खास खबर            May 07, 2019


सौरभ यादव।
एक ऐसे दौर में जब चुनाव आयोग जैसी संस्था प्रधानमंत्री पर एक्शन लेने से कतरा रही है, खुले आम आचार संहिता की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। उस दौर में आंखों के सामने से निकली ये तस्वीर बेहद चौंकाने वाली है।

जहां मंच पर नीतीश कुमार, सुशील मोदी, शत्रुघ्न सिन्हा जैसे दिग्गज बैठे हों और मंच से भाषण दे रहे हों तब के उप प्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी, जो ना केवल डिप्टी पीएम थे बल्कि बीजेपी के तेज तर्रार नेता भी थे।

सब ठीक चल रहा था तभी मंच पर एक शख्स चढ़ता है और आडवाणी की तरफ मुखातिब होकर पूरे आत्मविश्वास के साथ कहता है ''Your time is over sir!' मंच पर मौजूद हर शख्स चौंक जाता है, आडवाणी सन्न रह जाते हैं और चौंकते हुए उस शख्स की तरफ देखते हैं..लेकिन वो शख्स घड़ी की तरफ इशारा कर और माइक पर हाथ रख, दुगने आत्मविश्वास से कहता है, 10 बज चुके हैं सर, भाषण रोक दीजिए। उपप्रधानमंत्री को भाषण से रोकने वाले ये शख्स थे गौतम गोस्वामी जो वहां के कलेक्टर थे।

दरअसल चुनाव आयोग का यह साफ निर्देश था कि रात दस बजे के बाद कहीं भी किसी तरह के लाउडस्पीकर का प्रयोग नहीं किया जा सकता। गौतम गोस्वामी ने आदेश का पालन करते हुए मंच पर उस वक्त देश के गृहमंत्री और उप प्रधानमंत्री की माइक पर हाथ रख दिया था और उन्हें भाषण देने से रोक दिया था। हालांकि बाद में गौतम गोस्वामी के साथ भी वही हुआ जो ईमानदार लोगों के साथ हमारे देश में किया जाता है।

लेकिन जब से इस तस्वीर को देखा है, तब से ही सोच रहा हूं कि एक शख्स में इतनी हिम्मत कैसे और कहां से आ सकती है, उस हिम्मत के लिए इस शख्स ने क्या अलग किया होगा? जो एक आम आदमी नहीं कर पाता। फिर पाता हूं कि ये हिम्मत और साहस ईमानदारी से ही आ सकता है। ईमानदारी अपने काम के प्रति।

फेसबुक वॉल से।

 


Tags:

कलेक्टर-ने-मंच-पर-जाकर-उप-प्रधानमंत्री-को-रोक-दिया-था-भाषण-देने-से

इस खबर को शेयर करें


Comments