Breaking News

आरक्षण के नाम पर धोखा दे रहे हैं भाजपा-कांग्रेस:यश भारतीय

प्रदेश लार्इव            Dec 27, 2021


मल्हार मीडिया भोपाल।
मध्यप्रदेश में भाजपा और कांग्रेस दोनों पिछड़ा वर्ग के हितैषी होने के दावे करते हुए रोज़ नए नए बयान दे रहे है।

हक्कीत ये है कि भाजपा और कांग्रेस दोनो ही शासकीय सेवाओ में ओबीसी की 14 % भर्ती भी नही कर पाए अब 27% आरक्षण के नाम से धोखा दे रहे हैं। यह आरोप मध्यप्रदेश समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष यश भारतीय ने आज मीडिया से बात करते हुए लगाया।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में अनुसूचित जाति-जनजाति के बैकलॉग पदों को भरने के लिए सितंबर 2002 विशेष भर्ती अभियान चलाने का निर्णय लिया गया था। तब से ही इसकी अवधि प्रति वर्ष बढ़ाई जाती रही है। शिवराज सरकार के पिछले कार्यकाल में बैकलॉग की स्थिति को समाप्त करने के लिए सभी विभागों को रिक्त पदों पर भर्ती करने के निर्देश दिए गए थे। तब लगभग 18 हजार पद चिन्हित किए गए थे।

सामान्य प्रशासन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि सरकार ने 2005 में पिछड़ा वर्ग को विशेष भर्ती अभियान में शामिल करने का निर्णय लिया था।
प्रदेश में बैकलॉग सहित एक लाख से ज्यादा पद रिक्त हैं। लंबे समय तक भर्ती प्रक्रिया नहीं होने की वजह से रिक्त पदों की संख्या बढ़ी है। इसमें स्वस्थ्य,स्कूल शिक्षा, गृह और राजस्व विभागों में रिक्त पदों की संख्या अधिक है।

सर्वाधिक 14 हजार 349 पद स्वास्थ्य विभाग में रिक्त हैं। स्कूल शिक्षा विभाग में 10 हजार 345, गृह में सात हजार 661, वन में सात हजार 425, अनुसूचित जनजाति में छह हजार पांच सौ, राजस्व में पांच हजार और कृषि में ढाई हजार पद रिक्त हैं। अन्य विभागों में 35 हजार से ज्यादा पद रिक्त हैं।

उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में लगातार देर की जा रही है ये संकेत है भाजपा सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में विकास में रुचि नही रखती है।

 



इस खबर को शेयर करें


Comments