Breaking News

खरी-खरी

जयराम शुक्ल।अभी हाल ही में एक राष्ट्रीय सेमीेनार में भाग लेने का मौका मिला। विषय था..कुशल प्रशासनिक रणनीति बनाने में अकादमिक योगदान की जरूरत। इत्तेफाकन् मुझे ही मुख्य वक्ता की भूमिका निभानी पड़ी, वजह...
Jul 05, 2019

प्रकाश भटनागर।इसी सोमवार हमने इस कॉलम का उपसंहार ‘आइना वही रहता है, चेहरे बदल जाते हैं,’ से किया था। आशय यह था कि सरकार में चेहरे बदल जाते हैं, लेकिन हालात वैसे के वैसे...
Jun 26, 2019

श्याम त्यागी।शुक्रिया प्रधानमंत्री जी टीम इंडिया की चिंता करने के लिए। शुक्रिया प्रधानमंत्री जी शिखर धवन की चिंता करने के लिए। आपका बार बार शुक्रिया। मैं दो तीन दिन से आपको लेकर कुछ चिंतित था।...
Jun 20, 2019

दीपक गोस्वामी।डाक्टर से तो आक्रोशित लहजे में इतने सवाल कर‌ लिए. अगर हिम्मत है और वास्तव में सच्ची पत्रकार हो तो जाओ प्रधानमंत्री, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री, राज्य सरकार में शामिल भाजपा नेताओं से भी...
Jun 20, 2019

श्याम त्यागी।बिहार में हो रही बच्चों की मौत पर बीजेपी का ये नेता कह रहा है कि ये एक प्राकृतिक आपदा है। नेताजी आपने बिल्कुल ठीक कहा, आप जैसे लोगों के दिमाग पर अगर...
Jun 20, 2019

हेमंत कुमार झा।हम भले ही पढ़ने से इन्कार करें लेकिन वक्त की दीवार पर डरावनी इबारतें लिखी जा चुकी हैं। हम दोष दे सकते हैं वक्त के दौर को, लेकिन किसी को दोष देने...
Jun 14, 2019

ममता यादव।सोशल मीडिया पर फैली साम्प्रदायिक वैमनस्यता की गंदगी को नजरअंदाज करके देखें तो इसमें कोई शक नहीं कि मध्यप्रदेश के लोगों और यहां की पत्रकारिता ने अमन चैन को कायम रखा हुआ है...
Jun 14, 2019

हेमंत कुमार झा।राष्ट्रवाद का निजीकरण से प्यार देख कर मन गदगद है। आजकल दुनिया की प्रायः तमाम राष्ट्रवादी सरकारों का यही हाल है। वे "देश पहले" का नारा दे कर सत्ता में आती हैं...
Jun 08, 2019

महेश दीक्षित।बाबूलाल गौर जब मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे, तब वे सिर्फ भोपाल के मुख्यमंत्री कहलाते थे...और अब जब कमलनाथ मुख्यमंत्री बन गए हैं, तो वे सिर्फ छिंदवाड़ा के मुख्यमंत्री कहलाते हैं। वजह, नाथ पांच...
Jun 06, 2019

प्रकाश भटनागर।दो एक समान गतिविधियों के बीच से भी आप साफ अंतर ढूंढ निकाल सकते हैं। फिर यह मामला तो फर्क ढूंढने के लिहाज से शीशे की तरह साफ है। बात मोबाइल फोन का स्पीकर...
Jun 05, 2019