Breaking News

खरी-खरी

राघवेंद्र सिंह।पठानकोट-उरी के बाद पुलवामा में जवानों की शहादत। देश भर में राष्ट्रभक्ति का उफान। शहीदों के खून की एक-एक बूंद का बदला लेने के दावे। टीवी, न्यूज पेपर, सोशल मीडिया में देशभक्ति का...
Feb 18, 2019

राकेश कायस्थ।जब मामला राष्ट्रीय सुरक्षा का हो तो देश को सरकार के साथ खड़े होना चाहिए, भले ही असहमतियां तमाम हों। मैं भी सरकार के साथ खड़ा हूं। लेकिन सवाल यह है कि सरकार...
Feb 17, 2019

राकेश दुबे।अब भी हम क्या अपने जवानों को श्रद्धांजलि देकर शांति पाठ कर चुप बैठ जायेंगे? क्या प्रतिपक्ष ऐसे ही आलोचना करता रहेगा? क्या हम इस मामले में किसी ट्रम्प के मशविरे की राह...
Feb 15, 2019

प्रकाश भटनागर।प्रधानमंत्री जी! जी हां! बिना किसी सम्मानसूचक शब्द और अभिवादन के ही आपको यह पत्र लिख रहा हूं। क्योंकि बीते करीब चौबीस घंटे से खयाल में यदि कोई सम्मानसूचक शब्द चल रहा है,...
Feb 15, 2019

मनोज कुमार।13 फरवरी 1982 से लेकर इस तेरह फरवरी 2018 के इस सफर में भारत भवन ने अपना स्वर्णकाल देखा और अपने पतन का काल भी। इस समय '36’ का आंकड़ा हो गया है...
Feb 12, 2019

राकेश दुबे।पता नहीं अब किस प्रदेश की बारी है। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में जहरीली शराब के सेवन से मौत का आंकड़ा सौ के पार पहुंच गया है, जबकि कई लोगों की हालत अब...
Feb 11, 2019

राकेश कुमार पालीवाल।साहसिक निर्णयों से ही ऐतिहासिक चीजें घटित होती हैं। आज के बजट से यह बात साबित होती है। आयकर विभाग के मेरे तीन दशक से ज्यादा समय में कभी ऐसा नहीं हुआ...
Feb 01, 2019

राकेश दुबे।देश के किसी भी बाज़ार में चले जाईये। सारे दुकानदार इन दिनों एक ही बात कहते हैं बाजार में नकदी [पैसा] नहीं है। कृषि बाजारों में तो मंदी सालों से सुनने को मिल...
Jan 31, 2019

राकेश दुबे।उत्सवों का देश भारत अपने हर सरकारी और गैर सरकारी उत्सव में प्लास्टिक का भारी उपयोग कर रहा है। हर उत्सव की समाप्ति प्लास्टिक कचरे के एक ढेर से होती है। हमारे देश भारत...
Jan 30, 2019

राकेश दुबे।आज 26 जनवरी 2019 है। आज गणतन्त्र दिवस है। जटिल होती जिन्दगी, दिन ब दिन गहराते संकट ,नागरिक आन्दोलन की मजबूरी और तंग होते सरकारी नजरिये आम जन पर भारी पड रहे है...
Jan 27, 2019